सोमवार, 21 अगस्त 2017

सीमा कौशिक के पोर्टफोलियो निमार्ण का आठवां सप्ताह

इस भाग में आपको 10 अगस्त से 16 अगस्त तक की कहानी बतायी जायेगी दरअसल प्रत्येक बुधवार हमने शेयर लेने के लिये निर्धारित किया हुआ है तथा रविवार को कहानी ब्लोग पर अपडेट करने का शेड्यूल बनाया हुआ है इस बार की कहानी थोड़ी लम्बी होने के कारण इस बार भी विलम्ब से सोमवार को अपडेट हो रही है।
अब से इस कहानी के अपडेशन का ऐप नोटिफिकेशन भेजना बंद किया जा रहा है क्यों कि मेरी ऐप के 26000 के लगभग यूजर है जिनमें से ज्यादातर हिन्दी भाषी क्षेत्रों से नहीं है या इस कहानी में रूचि नहीं रखते हैं सिर्फ 5000 से 6000 यूजर इस कहानी को पढते हैं इसलिये जब 26000 यूजर को ये ब्लोग अपडेट होने का नोटिफिकेशन भेजा जाता है तो कुछ को खीझ महसूस होती है जैसा आपके कोई गुड मोर्निगं वाला व्हाटस अप आने पर आपको खीझ होती है ।
यदि आपने पहले भाग से इस कहानी को नहीं पढा है तो मेरा निवेदन है कि पहले भाग से पढना प्रारभं करें पहले भाग का लिंक हैः-
इस सप्ताह 10 अगस्त को जैन इरीगेशन के शेयर का भाव 91.95 पर जाकर बंद हुआ चूंकि 10 अगस्त को उसकी 200 डीएमए 97 के आसपास भी इसलिये जैन इरीगेशन उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत से ज्यादा नीचे बंद होने के कारण उसमें हमें रिवर्स ट्रेडींग सिस्टम करना था।
रिवर्स ट्रेडीगं सिस्टम की ज्यादा जानकारी आपने मेरी पुस्तक The Winning Theory In Stock Market  और How Chandu Earned And Chinki Lost In The Stock Market में पढी है परन्तु यदि नहीं पढी हो तो मैं यहां संक्षेप में बता देता हुं कि हम इस शेयर को एक बार बेच देगें और लोस बुक कर लेगें परन्तु ये नुकसान वास्तविक नुकसान नहीं है क्यों कि हम इस शेयर को लगातार वाॅच करेगें तथा यदि शेयर में गिरावट नहीं आती है तथा ये वापस उपर बढकर उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत उपर बंद हो जाता है तो हम इसको वापस खरीद लेगें अर्थात ये शेयर हमने 18 जुलाई 2017 को 108.10 के मूल्य पर लिया था इसको हमने वापस 91.95 रूपये पर बेच दिया तथा एक बार हमारा बचा हुआ कैश वापस प्राप्त कर लिया अभी शेयर की 200 डीएमए 97 के आसपास है यदि शेयर उसके 5 प्रतिशत उपर अर्थात 102 के आसपास बंद होगा तो हम अपने 59 शेयर वापस खरीद लेगें तथा इस प्रक्रिया में जो घाटा होगा वो मात्र 688.09 रूपये का होगा कैसे देखियेः-
59 शेयर 108.10 के भाव पर लिये निवेशः- 6377.99़़ + 48.38  ब्रोकेरेज व कर ,कुल निवेश=6426.28
59 शेयर 91.95 के भाव पर बेचने से प्राप्त राशि-5425.05 में से ब्रोकरेज व कर 47.14 कम करने पर Net Amount प्राप्त= 5377.91
59 शेयर 102 के भाव पर वापस खरीदने पर नया निवेश होगा= 6018 रूपये ब्रोकरेज 48 माने तो कुल 6066 का ही नया निवेश होगा 
इसलिये एक प्रकार से हमें सिर्फ 6066.00-5377.91= 688.09 पैसे के नये निवेश पर हमारे 59 शेयर वापस प्राप्त होगें वो भी तब है कि हमारा आकलन गलत हो जाये और ये शेयर वापस उपर बढ जाये ऐसा 20 शेयरों में से 5 शेयरों में होता है कि वो उनकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत से ज्यादा नीचे बंद हो जाने के बाद कम समय में वापस उनकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत उपर आकर बंद हो जाते है 
नही तो प्रतिभा इण्डस्ट्रीज का शेयर मैने एक साल पहले इस विधी से बेचा था आज तक वो उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत उपर बंद नहीं हुआ तथा 26 रूपये से गिरता हुआ आज 8 रूपये पर आ गया तथा उसकी 200 डीएमए भी घटते घटते 11 रूपये हो गयी तो आप समझ गये होगें कि ऐसी स्थिती में यदि में प्रतिभा इण्डस्ट्रीज का शेयर  वापस लुगां तो मुझे उलटा फायदा होगा ना कि नुकसान होगा क्यों कि मैने रिवर्स ट्रेडिंग सिस्टम में बेचकर जो पैसा प्राप्त किया उसके आधे पैसों में मुझे उतने के उतने शेयर वापस मिल जायेगें।
तो आप समझ गये होगें कि रिवर्स ट्रेडिंग सिस्टम में 20 में से 5 शेयरों में हमारा आकलन गलत होन पर जब हम वो शेयर वापस लेते हैं तो हमें 600-700 का नुकसान होगा अन्यथा 20 में से 15 शेयरों गिरावट का दौर लम्बा चलता है और हमें चार फायदे होते हैंः-
1. पहला पोर्टफोलयो में गिरता हुआ शेयर रखकर रोज खून नहीं जलाना पड़ता।
2. जो धनराशि वापस प्राप्त होती है उसको यदि हम बैंक के बचत खाते में भी रखते हैं तो हमें 3.5 प्रतिशत सालाना ब्याज मिलता है वैसे हम आईसीआईसीआई बैंक में 6.75% interest rate  पर ऐसी एफ.डी कराते हैं जो मासिक ब्याज देती है इसमें हमें 50000 की एफ डी पर प्रतिमाह लगभग 250 रूपये ब्याज मिलता है जो प्रतिभा इण्डस्ट्रीज जैसे मामले में तो ब्याज से ही नुकसान की पूर्ति हो जाती है।
3. वापस बढने पर हम खरीद कीमत से भी काफी कम कीमत पर शेयर वापस खरीद सकते हैं।
4.  सबसे बड़ा फायदा होता है कि जब हम कोई शेयर एक साल से कम होल्ड करके बेचते हैं तो उसपे हमें 15 प्रतिशत इनकम टैक्स देना होता है जैसे मेरी पत्नी ने पीटीसी इण्डिया के शेयर बेचकर जो लगभग 1100 रूपये का मुनाफा कमाया था उस पर उसको 15 प्रतिशत की दर से लगभग 165 रूपये आयकर देना पड़ता परन्तु रिवर्स ट्रेडिंग सिस्टम में जो नुकसान हुआ 6426.28-5377.91= 1048.37 उसको हम इस मुनाफे में से कम कर सकते हैं अर्थात 1100 मुनाफे में से रिवर्स ट्रेडींग सिस्टम में हुये नुकसान 1048 को कम करने पर Net लाभ 52 रूपये का ही बचा जिस पर 15 प्रतिशत इनकम टैक्स भरना पड़ेगा।
तो हमने 11 अगस्त को जैन इरीगेशन के शेयर बेचकर अपना घाटा 1048.37 बुक कर लिया:-

अब 16 अगस्त को शेयरों के भाव व 200 डीएमए की स्थिति निम्न प्रकार से थी जिसमें रेंक 15 का शेयर जम्मू कश्मीर बैंक उसक 200 डीएमए के 5 से 15 प्रतिशत उपर ट्रेड कर रहा था इस स्क्रीनशोट में देखियेः-

 अतः हमने 78.07 के भाव पर जम्मू और कश्मीर बैंक के 82 शेयर खरीद कर का 6450.68 निवेश इस सप्ताह किया ये देखिये ट्रेड बुकः-

दुसरा इस दिनांक को एमएमटीसी का शेयर उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत नीचे बंद हो गया इसलिये उसको बेचकर हमने रिवर्स ट्रेडिंग सिस्टम कर लिया जिससे इस सप्ताह हमें नया शेयर खरीदने के लिये नया निवेश नहीं करना पड़ा
इस सप्ताह 14 अगस्त 2017 चेन्नई पैट्रोलियम के डीविडेन्ड की रेकार्ड डेट भी थी अर्थात अब हमें 21 रूपये प्रति शेयर के हिसाब से 18 शेयरों पर 378 रूपये लाभांश भी प्राप्त होगा जिसे बैलेंस शीट में अलग से दिखाया जा रहा है।
दिनांक 16.08.2017 को सीमा की बैलेंस शीट का हाल देखिये इसमें रिवर्स ट्रेडिंग सिस्टम से प्राप्त कैश को व डीविडेन्ड को कैश होल्डींग में शामिल करके फिर उसमें से इस सप्ताह लिये गये शेयर जम्मू कश्मीर बैंक मे निवेश किया गया है इसलिये इस सप्ताह कोई नयी धनराशि डालने की जरूरत नहीं पड़ी।

आपके कमेंट का मुझे भी इंतजार रहता है।
सादर।
महेश चन्द्र कौशिक
Next Part Link:-
http://hindi.maheshkaushik.com/2017/08/blog-post_28.html


एक टिप्पणी भेजें

Matched Content