रविवार, 23 जुलाई 2017

सीमा कौशिक के शेयर पोर्टफोलियो निमार्ण का चौथा सप्ताह

यदि  आप पहली बार इस ब्लोग पर आये हैं और आपने इस आलेख के पिछले भाग को नहीं पढा है तो कृपया निम्न लिंक पर जाकर इस आलेख के प्रथम भाग से पढना आरंभ करें। 
इस सप्ताह एक तो पीटीसी इण्डिया के शेयर जो सीमा ने दूसरे सप्ताह में 97.80 के भाव पर 65 शेयर लिये थे अपने खरीद मूल्य से 20 प्रतिशत बढ गये अर्थात मंगलवार 18.08.17 को सीमा के ये शेयर 97.80 में 20 प्रतिशत मुनाफे के साथ 117.36 से उपर ट्रेड कर रहे थे ये शेयर 5 जुलाई 2017 को ही लिये थे तथा मात्र 13 दिवस में 20 प्रतिशत का लाभ अदभूत था। 
अब मेरे ज्यादातर पाठक यह शंका करेगें कि अब शेयर बेचने की क्या जरूरत थी हो सकता है कि शेयर और भी उपर बढ जाये आपकी बात सही है पर यहां शेयर बेचने के दो कारण हैः- 
पहला कारण उपर की पुस्तक में मैने शेयर निवेश की तीन विधियां बतायी है सीमा इनमें से तीसरे प्रकार की छोटी निवेशक है जिसके लिये 20 प्रतिशत मुनाफे में आते ही शेयर बेचने का नियम बताया है क्यों कि ऐसे छोटे निवेशक मार्केट में सिर्फ 1 से 2 लाख रूपये का ही निवेश करते हैं तथा शेयर बेचने से प्राप्त रकम वापस निवेश करने से उन्हे नयीं धनराशि का निवेश नहीं करना पड़ता। 
अर्थात इस सप्ताह सीमा मार्केट में कोई नयी धनराशि नहीं डालेगी उसको पीटीसी इण्डिया के शेयर बेचने से जो मूलधन वापस मिलेगा उसी से नया शेयर आ जायेगा अर्थात वही पैसा दुसरे शेयर में निवेशित हो जायेगा जिससे वहां भी कमाने के चांस मिल सकते हैं। 
दूसरा आपको एक कहानी बतानी पड़ेगी एक होटल था वहां 70 रूपये में भरपेट खाना मिलता था ज्यादातर समझदार लोग खाने की थाली लेते तथा पेट भर जाने पर 70 रूपये चुकता करके चुपचाप चले जाते। एक दिन घीसूभाई उस होटल में आ गये ( मेरी पुस्तक हाउ चन्दू अर्न एण्ड चिंकी लोस्ट इन द स्टोक मार्केट में घीसूभाई कौन थे ये बताया गया है मेरे नियमित पाठकों को याद आ गया होगा) 
उन्होने 4-5 चपातियां खायी तो उनका पेट भर गया पर वो लालच में आ गये कि 70 रूपये ही देने हैं इसलिये खाते रहे जब 10 रोटियां हो गयी तो उन्होने सोचा शाम का खाना भी खा लिया अब बस 1 रोटी कल के हिस्से की और खाकर 70 रूपये दे देगें परन्तु अभी आधी रोटी खा पाये थे कि उन्हें वहीं पर उलटी हो गयी खायी हुयी सभी रोटियां निकल गयी लोग घृणा से देखने लगे होटल वाले ने खरीखोटी सुनायी उसके बाद 70 रूपये देकर बाहर आये तो लोग हसं रहे थे पर घीसू भाई का पेट दर्द कर रहा था डाक्टर ने 200 रूपये की दवा दी तथा एक दीन सिर्फ दलिया खाना बताया। 
तो ऐसी ही बेदर्द हालत शेयर मार्केट में लालच करने वालों की होती है इसलिये जब शेयर मार्केट में मुनाफे से आपका पेट भर जाये तब आप थाली से उठ जायें तो अच्छा है
 अभी मार्केट का बुल रन है हो सकता है आपको मेरी कहानी अभी समझ में नहीं आये पर जब मार्केट गिरेगा तो घीसू भाई जैसे बहुत से छोटे निवेशक उल्टियां करते फिरेगें तब मेरी ये कहानी न केवल याद आयेगी बल्कि अपने आप समझ में भी आ जायेगी। 
तो सीमा ने अपने पीटीसी इण्डिया के 65 शेयर 117.50 पर बेचकर रूपये 1173.45 रूपये कमाये। 65 शेयर का 97.80 के भाव से खरीद मूल्य ब्रोक्रेज सहित 6405.28 रूपये था व विक्रय मूल्य से प्राप्त राशि 7637.50 में ब्रोके्रज 42.00+Tax 16.77=58.77 कम करने पर राशि 7578.73 रूपये प्राप्त हुयी अतः कुल लाभ 1173.45 रूपये का हुआ। 

 इसके बाद इस बुधवार 19.07.17 को रेंक 3 से रेंक 12 तक व रेंक 14 से रेंक 23 तक चैक करने पर रेंक 23 के शेयर Jain Irrigation का भाव उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत से 15 प्रतिशत उपर की रेंज में मिला:-

 तो सीमा ने Jain Irrigation  के 59 शेयर  108.10 के भाव पर ले लिये इस ट्रेड बुक में देखिये:-

तो 19.07.17 को मार्केट बंद होने के बाद सीमा की बैलेंस शीट का हाल देखियेः- 


अब आपकी बारी है आप कमेंट में अपनी राय से अवगत अवश्य करायें ।
मेरी इस तीसरी पुसतक का पैपरबेक संस्करण पोथी डोट कोम पर आ गया है मैं उसका लिंक दे रहा हुं आप वंहा से लेना चाहें तो ले सकते हैं वैसे इसमें कोई जादु की छड़ी नहीं है जो आपको हाथे हाथ फायदा देगी इसमें रेंक 1 से रेंक 100 तक के शेयरों के नाम व मैने उनको क्यों सेलेक्ट किया सिर्फ इतना सा बताया गया है इसका  पैपरबेक संस्करण पोथी डोट कोम लिंक हैः-
My Latest Stock Recommendation:-
अगले सप्ताह फिर मिलेगें। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

your comment increase quality of my work and also provide a comunication with you and me

Matched Content