शनिवार, 8 जून 2019

मेरे एक फोलावर श्री विपिन अग्रवाल ने भी स्विंग ट्रेड की सहायता से जीता जीरोधा का 60 डे विनिंग ट्रेडर का अवार्ड Swing Trading Zerodha

एक कक्षा में गुरूजी अनेक विधार्थियों को पढ़ाते हैं पर उनमें से होनहार विधार्थी ही गुरू के ज्ञान को आत्मसात करके उसे पचा पाते हैं किसी कक्षा के विधार्थियों में सभी प्रथम श्रेणी नहीं लाते क्यों कि उनमें गुरू के कथनों को सुनने व उस पर अमल करने की हिम्मत व लग्न नहीं होती। 
मेरे एक होनहार शिष्य श्री विपिन अग्रवाल जी पहले इन्टरा डे करते थे जिसमें कभी उनको फायदा होता कभी नुकसान कुल मिलाकर गाड़ी नुकसान में ही चल रही थी जब से स्विंग ट्रेड पर मेरे वीडियो देखे उन्होनें इन्टराडे को तिलाजंली दे दी व स्विंग ट्रेड शुरू कर दी जब उन्होनें स्विंग ट्रेड में जीरोघा का 60 डे विनिगं ट्रेडर का अवार्ड जीत कर प्रमाण पत्र मुझे शेयर किया तो मेरा सीना गर्व से 56 इन्च का हो गया है:-

 क्या पता बाकी शिष्य भी जाग जाये इसलिये मै उनका प्रमाण पत्र आप सब से शेयर कर रहा हूं। आप सब भी ज्यादा से ज्यादा विनिगं ट्रेडर बनें व अपने प्रमाण पत्र मेरे साथ शेयर करें आखिर एक गुरू को अपने शिष्यों की कामयाबी से ही खुशी मिलती है। 
विपिन जी ने मेरी विधि की अक्षरक्षः पालना नहीं की उन्होने अपने दिमाग से स्विंग ट्रेड का कुछ मोडीफायड रूप इस्तेमाल किया था विपिन जी ने स्विंग ट्रेड कैसे की ये  मैं अपने ब्लोग पर शेयर कर रहा हूं :-
विपिन जी इन्टराडे में शेयरों के प्राईस मूवमेंट से इतने डरे हुये थे कि मैंने स्विंग ट्रेड में बढ़ते शेयर चयन करने की जो विधि इस वीडियो में बताई थी उससे वो अभी तक सहमत नहीं हैं व सिर्फ गिरते शेयर जो उनके 52 वीक लो के आसपास हैं उनको ही चूज करते हैं।
निफ़्टी के बढते शेयर चूज करने की विधि का वीडियोः-

मेरे एक फोलोवर ने पुछा भी था कि जो शेयर 52 वीक लो पर ट्रेड कर रहा हो उसमें स्विंग ट्रेड करने की मैथ्ड बताये तो विपिन जी की ये विधि उनके लिये भी अच्छी है जो गिरे हुये शेयर में ट्रेड करना चाहते हैं।
यहां एक बार फिर से दोहरा दूं कि याद रखें स्विंग ट्रेड सिर्फ निफटी 50 के शेयरों में ही करनी है क्यों कि ये यदि अधिक गिरे हुये भी हो तो इनमें फयूचर एण्ड आप्शन की एक्सपायरी के समय इनमें शाॅर्ट कवरिंग आने से इनमें स्विंग गेन मिल ही जाता है।
विपिन जी की विधि बहुत ही सरल है व मेरी समझ में आज तक ये नहीं आया कि जब शेयर मार्केट में पैसा कमाना इतना सरल है तो लोग अन्धाधूंघ ट्रेड करके पैसा हारते क्यों हैं ?ये ही मेरी जिदंगी का मिशन भी है कि कोई भी छोटा निवेशक शेयर बाजार से पैसा कमाये ना कि डूबाये।
विपिन जी ने निफटी के 10-11 गिरते हुये 52 वीक लो के आसपास वाले कम कीमत वाले शेयरों का चुनाव किया जैसे यस बैंक, हिंडालको, पावर ग्रिड, गैल, ओएनजीसी, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील, जेएसडब्लयू स्टील, जी लिमिटेड, एनटीपीसी आदि।
अब विपिन जी की कुल पूंजी 50000 ही बची थी बाकी तो इन्टराडे में डीलीवरी ले लेने से फसं गयी थी इसलिये मेरे बताये अनुसार वो चाहते थे कि उन्हे प्रतिदिन इतनी पूंजी का निवेश करना है कि मार्केट गिरे तो भी वो लगातार 25 दिन ऐवरेज आउट करने की क्षमता में रहे।
उनकी विधि में वो रोज इन 10 से 12 शेयरों में लिमिट आर्डर लगाते थे पर वो लिमिट आर्डर उस शेयर की पिछले दिन की VWAP  पर ना लगाकर विपिन जी पिछले दिन के लो से 2 प्रतिशत नीचे लगाते थे जिसके आने की संभावना बहुत कम मामलों में होने से वो भले ही 10 से 12 शेयरों में लिमिट आर्डर भरते पर इनमें से कभी 1 कभी 2 या कभी मार्केट गिरा हो तो 3 आर्डर ही एक्जीक्यूट होते थे। कुल मिलाकर 12 शेयरों में रोज ऐसा लिमिट आर्डर लगाने पर औषतन रोज 2 शेयर आते हैं ऐसा मुझे विपिन जी ने बताया।
जैसे शेयर का पिछले दिन का लो यदि 188 हो तो वो इससे दो प्रतिशत नीचे अर्थात 184.25 का लिमिट ओर्डर भरते थे इस प्राईस पर शेयर आना होता तो आ जाता नहीं तो ओर्डर कैसंल हो जाता।
इसका मतलब वो रोज 2 शेयर लेगें तो 25 दिन लगातार एक भी शेयर मुनाफा नहीं देवे तो भी उनकी खरीदने की क्षमता बनी रहे इसके लिये उन्हे रोज 2000 रूपये के लगभग ही निवेश करना था।
विपिन जी के खाते में 50000 रूपये हैं वो रोज 12 शेयरों में मार्केट खुलने के पहले आफटर मार्केट ओर्डर में पिछले दिन के लो के 2 प्रतिशत नीचे के प्राईस पर लिमिट ओर्डर डालते थे व प्रत्येक ओर्डर में 1000 रूपये के लगभग शेयर आ जाये इतनी क्वांटीटी भरते थे।
अब औषतन 2 आर्डर रोज एक्जीक्यूट हो जाते अर्थात 2000 का निवेश हो जाता।
अगले दिन वापस इन्ही 12 शेयरों में फिर पिछले दिन के लो से 2 प्रतिशत नीचे लिमिट ओर्डर लगाते अर्थात वो रोज इन 12 शेयरों में ही लिमिट ओर्डर लगाते जिससे जो भी शेयर पिछले दिन के लो से 2 प्रतिशत नीचे गिर जाता वो ऐवरेज आउट अपने आप हो जाता।
इस प्रकार जो भी शेयर आते उनकी ऐवरेज प्राईस पर उन्होने कम से कम 4 प्रतिशत का फिक्स मुनाफा तय कर रखा था जब भी शेयर 4 प्रतिशत से उपर रिर्टन देता वो बेच लेते बस धीरे धीरे शेयर अपने न्यूनतम प्राईस पर आते जाते वो 4-4 प्रतिशत मुनाफा कमाते जाते कभी कोई शेयर 10 बार भी ऐवरेज आउट हो गया तो भी 10000 ही ब्लोक होते पर इतना ऐवरेज आउट होने पर हल्के से बाउंस बैक में ऐवरेज प्राईस पर 4 प्रतिशत मुनाफा मिलता रहा वो रोज कमाते रहे।
 60 दिनों में कभी उन्होने 1000 रूपये के शेयर पर 4 प्रतिशत मुनाफा बुक किया तो सारे खर्च काट कर 20 रूपये ही बचे कभी 60 कमाये कभी 100 कमाये तो भी 200 कमाये कभी 400 भी कमाये कभी 700 से उपर लाभ भी एक ही दिन में हो जाता ऐसे करते करते औषतन रोज 100 रूपये भी कमाये तो 60 दिवस में 6000 की कमायी 50000 की पूंजी पर कर डाली जो 6 प्रतिशत मासिक रिर्टन है व 48 प्रतिशत सालाना रिर्टन है इस दर से उनके 50000 रूपयों से 1 करोड़ 20 लाख 94 हजार 784 रूपये बनते 14 वर्ष समय लगेगा।
विपिन जी को मेरी अग्रिम शुभकामनायें।
विपिन जी के लिये आपके उदगार कमेंट में आमत्रिंत है।
मैं व्यक्तिगत रूप से इस विधि का समर्थक अभी भी नहीं हूं मेरा मानना है कि गिरते शेयरों की जगह बढ़ते शेयरों में पिछली VWAP पर लिमिट ओर्डर डाल कर सप्ताह में एक दिन वाली विधि से ज्यादा कमायी होती है तथा इसमें इतना पैसा ब्लोक करके रखने की जरूरत भी नहीं है पर विधि अपनी अपनी है मम्मी दाल चावल रोटी सब्जी सब प्रकार के व्यंजन बनाती है जिसको जो रूचिकर होता है वो वही खाता है आपको विपिन जी की विधि रोचक लगे तो आप उसे आजमायें। 
पर कमायी करके मुझसे प्रोग्रेस शेयर करते रहना उससे मुझे खुशी मिलेगी सादर।
zerodha, 60 day challange,year low trading,share trading,swing trading hindi.


रविवार, 2 जून 2019

शेयरजिनियस डयूल बेनिफीट स्विंग ट्रेडिंग सिस्टम सीखें व कमायें दोहरा लाभ एक माह की शेयर होल्डिंग पर Dual Benefit Swing Trading System

नमस्कार दोस्तो
कैसे हैं आप? लम्बे समय के बाद ब्लोग लिखने के लिये माफी चाहता हूं। आज के ब्लोग पोस्ट में मैं आपको शेयरजिनियस ड्यूल ट्रेडिंग सिस्टम के बारे में बताउंगा। आजकल डीस्कांउट ब्रोकर आने के बाद चूंकि ब्रोकेरेज चार्ज बहुत कम हो गया है इसलिये वो जमाना चला गया जब लोग शेयर खरीदकर होल्ड करते थे व कम से कम 15 प्रतिशत रिर्टन मिलनें पर बेचते थे अब चूंकि ज्यादातर लोग स्विंग ट्रेड कर रहे हैं इसलिये हमें भी सिस्टम मोडीफाई करना होगा क्यों कि जब तक हम 15 प्रतिशत  शाॅर्ट टर्म गैन्स का इंतजार करेगें तब तक स्विगं ट्रेड वालों की बिकवाली आ जायेगी व शेयर वापस गिर जायेगा।
स्विंग ट्रेड के बारे में पिछले पोस्ट में बता दिया है जिन्होनें पिछला पोस्ट नहीं पढ़ा वो पहले इस लिंक पर पढ़ लेवें-
अब बात करते हैं स्विंग ट्रेडिंग सिस्टम के एक एंडवासंड रूप की जिसे हम शेयरजिनियस ड्यूल बेनिफिट ट्रेडिंग सिस्टम के नाम से संबोधित करेगें।
असल में ये एक ऐसा सिस्टम है जिसमें एक माह की होल्डिंग में ही डीविडेन्ड भी मिलता है व ट्रेडिंग गेन्स भी मिलते हैं इसलिये दोहरा लाभ होने से इसे ड्यूल बेनिफिट सिस्टम कहा गया है।
ये सिर्फ निफ़्टी50 के 50 शेयरों में ही करना है क्यों कि जब हम निफ़्टी 50 के शेयरों में स्विंग ट्रेड करते हैं तब इनमें ज्यादा वोल्यूम का लाभ मिलने के साथ साथ ये सभी शेयर चूंकि फ्यूचर एंड ऑप्शन सेगमेंट में भी शेयर करते हैं जिससे यदि शेयर पुरे महिने गिरता भी रहा तो आखिर एक्सपायरी के पास में शाॅर्ट कवरिंग आने से हमें ट्रेडिंग गेन्स भी मिल जाते हैं।
ये पूरी विधि इस वीडियो में समझाई गयी है आगे का ब्लोग पोस्ट पढ़ने से पहले आप ये वीडियो देख लेवें तो ज्यादा बेहतर रहेगाः-


संक्षेप में इस विधि के मुख्य बिन्दू निम्न हैः-
1. इसे सिर्फ निफ़्टी 50 के शेयरों में इस्तेमाल करना है।
2. आप गूगल पर इकोनोमिक टाईम्स अप कमिंग डिवीडेंड लिखकर सर्च करके निफटी की कंपनियों की आगामी एक्स डिवीडेंड डेट का पता कर सकते हैं उपर के वीडियो में प्रैक्टीकल भी दिखाया है कि कैसे पता करना है।
3. अब एक्स डीविडेंड के 4 सप्ताह पहले वाले सप्ताह के दिन से खरीददारी शुरू करनी है जैसे यदि आपका शेयर 28 मई को एक्स डिविडेंड हो रहा है तो आप 30 अप्रैल, 7मई, 14 मई, 21 मई को खरीददारी करेगें।
4. ये खरीददारी 4 भाग में करनी है अर्थात आपको 20 शेयर खरीदनें है तो 5-5-5-5 शेयर 30 अप्रैल, 7मई, 14 मई, 21 मई को खरीदेगें अर्थात सप्ताह में केवल एक बार एक ही दिन खरीदने हैं।
5. आपको खरीददारी लिमिट Order से करनी होती है जैसे आज रविवार है मैं सोमवार को इस विधि से एक्सिस बैंक का शेयर खरीदना चाहता हूं तो मैं पिछले ट्रेडिंग सेषन शुक्रवार के एक्सिस बैंक के वोल्यूम वेजड ऐवरेज प्राईस पर मार्केट खुलने से पहले ही इस प्राईस पर लिमिट Order डाल दूंगा इस चित्र में दिखाया गया है कि कैसे आप पिछले दिन का वोल्यूम वेजड ऐवरेज प्राईस देख सकते हैं:-

 ज्यादा जानकारी आप इस वीडियो से भी ले सकते हैं इसमें सब प्रैक्टिकल दिखाया हैः-

6. अब डिविडेंड की रेकार्ड डेट को आपके पास शेयर होल्ड होने से आपको डिविडेंड तो मिल ही जायेगा उसके बाद एक्स डिविडेंड होनें के अगले दिन हमें देखना है कि क्या हमें शेयर की ऐवरेज प्राइस पर 4.5 प्रतिशत  मुनाफा हो रहा है? यदि हां तो हम बेचकर ये 4.5 प्रतिशत  मुनाफा ले लेेगें व प्राप्त मूल राशि को अगले ऐसे स्टाॅक में लगायेगें जो एक माह बाद एक्स डीविडेंड होगा।
7. यदि डीविडेंड मिलने के अगले दिन शेयर गिरा हुआ है और आपको 4.5 प्रतिषत मुनाफा नहीं मिल रहा तो अगले सप्ताह वापस उसी वार को आप 5 शेयर और लेकर ऐवरेज कर लेगें इस बार मुनाफे का टारगेट कम करके 4 प्रतिशत रखेगें
8. यदि अभी भी मुनाफा नहीं मिला तो अगले सप्ताह फिर से इसी विधि से 5 शेयर और लेगें व मुनाफे का टारगेट वापस कम करके 3.5 प्रतिशतकर देगें।
9. तो आपने उपर के वीडियो में देख ही लिया होगा कि जैसे जैसे ऐवरेज करें वैसे वैसे मुनाफे का टारगेट कम करते जायें ये 3 प्रतिशत फिर 2.5 प्रतिशत फिर 2 प्रतिषत तक कम हो जायेगा मेरा अनुभव कहता है कि इससे ज्यादा कम करने की कभी आवष्यकता ही नहीं हुयी पर यदि हो भी जाये तो ऐवरेज करते जायें मुनाफे का टारगेट कम करते जायें 1.5 प्रतिशतअगली ऐवरेज पर 1 प्रतिशत व आखिर में कम से कम 0.5 प्रतिशत इससे आप कभी भी फसेंगें नहीं ज्यादा से ज्यादा क्या होगा एक महिने की जगह दो महिने लग जायेगें आप पहले से ये मानकर चलें कि आपको इतनी बार और भी ऐवरेज करना पड़ सकता है व इतना Cash मैन्टेन करके चलें पर इसकी जरूरत नहीं होती क्यों कि निफटी के स्टोक्स में एक्सपायरी के पास इतना उतार चढ़ाव मिल ही जायेगा कि आप 4.5 प्रतिशत नहीं तो 3 से 2 प्रतिशत मुनाफा ले ही लेगें।
10. तो इसे कहते हैं आम के आम गुठलियों के दाम अब आपकी बारी है उदगार व्यक्त करने की याद रखें कमेंट नहीं आने पर मेरा मन खट्टा हो जाता है व मेरी फिर आगे मेहनत करने की इच्छा नहीं होती मैं सोचता हुं जब कोई पढ़ता ही नहीं तो क्या फायदा बतानें का....सादर। आपका महेश चन्द्र कौशिक
Duel benefit swing trading system in Hindi. get short term gains and tax free dividends on nifty stocks.

शनिवार, 26 जनवरी 2019

स्विंग ट्रेडिंग पर मेरे नये आविष्कार के बारे में जानकारी Swing Trade New Research

साथियो नमस्कार
लम्बे समय के बाद आपसे ब्लोग पर मिलकर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है आज का ब्लोग स्विंग ट्रेड के बारे में मैने हालिया दिनों में जो आवष्किार किये हैं उनकी आवश्यकता और उनके फायदों पर विस्तार से प्रकाश डालने वाला है।
स्विंग ट्रेड की आवश्यकात क्यों पड़ी:- पिछले दो वर्षे में स्टोक मार्केट में बहुत तेजी से  परिवर्तन हुये । जिससे ये साबित हो गया कि मार्केट में आप कितनी भी अच्छी फडांमेन्टल वाली कंपनिया चून कर निवेश कर लेवें जब कंपनियों के प्रमोटर्स ही धोखा करने पर उतारू हो जायेगें तो आप कुछ भी नहीं कर सकते।
मैने ब्लोग पर टांटिया कन्स्ट्रशन व Fedders इलैट्रिक जैसी कंपनियां बहुत सोच समझ कर रेकमांड की परन्तु बाद में पता चला कि प्रमोटर्स ने चुपके से लोयड ब्रान्ड ही अन्य कपंनी को बेच दिया व उसके बार रिजल्ट ही घोषित नहीं किया ऐसा ही कुछ टांटिया के साथ भी हुआ इससे मार्केट में मेरी प्रतिष्ठा को बहुत आघात लगा ।
मुझे बहुत दुख होता है जब मेरे बताये हुये शेयर नहीं चलते पहले जब मैं अकेला निवेश करता था तो कोई बात नहीं मेरे पोर्टफोलियो में शेयर 2 साल या 4 साल भी रखे रहते तो में चिन्ता नहीं करता था पर अब मेरे उपर मेरे 70 हजार फोलोवर की जिम्मेदारी भी है तथा सभी फोलोवर ल्म्बे समय तक इंतजार नहीं करते वो रोज कमा कर रोज खाने वाले फोलोवर है इसलिये मैने निवेश व ट्रेउिंग का एक मिला जुला रूप स्विंग ट्रेड में निकाला जिससे फोलोवर का ट्रेड करने का बुखार भी उतरता रहेगा तथा उनको नियमित आय भी होती रहेगी।
इसकी प्रारंभिजक जानकारी आपने इस वीडियो में देख ली होगी:-
पर उक्त वीडियो में जो वीधि बतायी गयी थी वो सिर्फ 3 बड़े लार्ज कैप शेयरों में करने के लिये थी वर्तमान में सबसे ज्यादा मार्केट कैप वाली शेयरों की सूची आप इस लिंक पर देख सकते हैं:-
इसके अनुसार यदि आपके पास 1 लाख रूपये तक कैपिटल है तो आप इन टाॅप 3 शेयरों Reliance, TCS, HDFC Bank में रोज 4 शेयर उक्त विधि से लिमिट प्राईस पर लेते हैं तथा जब भी 2.5 प्रतिशत का रिर्टन मिले तब निकल जाते हैं मुझे बहुत खुशी हुयी जब मेरे फाॅलोवर्स ने ई मेल व उक्त वीडियो पर कमेंट करके बताया कि इस विधि से वो अब हर माह 5000 से 6000 कमा रहे हैं जबकि पहले वो इन्टरा डे करते थे तब हर माह 5000 से 6000 गवां रहे थे।
तो ये विधि इन्टरा डे का विकल्प है आपको उक्त 3 शेयरों में रोज 4-4 शेयर खरीदने के आर्डर उक्त वीडियो में बताये अनुसार भरकर रखने है तथा ये आर्डर एक साथ ट्रिगर नहीं होते कभी 1 शेयर ही आयेगा कभी 2 आयेगें तो कभी चारों आयेगें कभी एक भी नहीं मिलेगा।
बुरी से बुरी स्थिति में मान लेवें मार्केट लगातार बुरी तरह से गिरता ही रहता है रोज 4 के 4 शेयर इन तीनों कपंनियों के आपको मिलते रहते हैं तो भी एक दिन में आपका अधिकतम निवेश 20000 का होता है तथा आप 3 लाख रूपये की कैपिटल में आराम से 15 ट्रेडिंग सेशन भी ऐवरेज आउट कर सकते हैं तथा आप इन तीनो कपंनियो के हिस्टोरिकल डाटा से देख सकते हैं कि ऐसा कभी नहीं हुआ कि उक्त विधि में बताये अनुसार ऐवरेज आउट करने के बाद भी इन तीनों कपंनियों में 15 सेशन लगातार ऐवरेज आउट करने पर भी 2.5 प्रतिशत कमा कर निकलने का मौका नहीं मिला हो।
यदि आपके पास 3 लाख की पूंजी नहीं है 1 लाख ही हो तो आप सिर्फ एक शेयर रिलायंस में ही उक्त विधि का प्रयोग कर सकते हैं।
प्रश्नः- सर कैसे बेवकुफ हैं आप मैं जीरोधा में 1 लाख रूपये रखूंगा शेयर एक दिन में 1200 से 4800 के ही लूंगा तो बाकी पूंजी पर क्या रिर्टन मिलेगा।
उतरः- अरे भाई मान लो आप एक शेयर रिलायंस में ही स्विंग ट्रेड करना चाहते हैं ज्यादा से ज्यादा बुरी स्थिति में आपके रोज 4800 के शेयर आ जायेगें मान लो आपको पुरे वीक में एक बार भी 2.5 प्रतिशत का रिर्टन नहीं मिलगा तो वीक के 5 दिन के लिये आपको ज्यादा से ज्यादा 25000 की जरूरत है तो भाई जीरोधा के फंड में सिर्फ 25000 की ट्रांसफर करें वीक के अतं में समीक्षा करें कितना फंड यूटीलाईज हुआ कितनी बार आपने 2.5 प्रतिशत कमाये अब अगले वीक के लिये अधिकतम 25000 की जरूरत मानकर 25000 से जितना फंड कम हो अगले वीक के लिये उतना ही टाॅप अप कर लेवें जैसे वीक एण्ड में 18000 का फंड रखा है व 7000 के शेयर रखे है तो सिर्फ 7000 ही ओर टाॅप अप कर लेगें तो आप अगले वीक में भी रोज 4 शेयर रिलायंस के लेते रह सकेगें।
अब बात आती है आपका फंड 1 लाख से भी कम है तो क्या करे तो आप निफटी 50 के 50 शेयरों में से कम कीमत वाले शेयर जैसे आईओसी यस बैंक का चयन कर सकते हैं इसके लिये आप पहले निम्न वीडियो देखेंः-

सीमा के शेयरों में निवेश का क्या हुआ?:- अगर आप मेरे इस ब्लोग पर पहली बार आये हैं तो आप पहले इस लिंक पर जाकर पढ़ लेवें कि कैसे मेरी पत्नी ने शेयरों का पोर्टफोलियो बनाना शुरू किया था
इस ब्लोग के पिछले आलेख में बताया था कि कैसे 1 जुलाई 2018 से 28 अक्टूम्बर 2018 तक सीमा को 1219.80 की डीविडेन्ड की कर मुक्त आय हुयी।
इसके बाद 29 अक्टूम्बर 2018 से आज तक की उसकी आईसीआईसीआई की ट्रेड बुक देखिये:-

 उसने रूरल इलैक्ट्रिक, पावर फायनेंस, इन्टरग्लोब एविऐशन में 20 प्रतिशत से उपर प्रोफिट बुक किया तथा लगभग 3800 रूपये कमाये।
इसके अलावा आप देख सकते हैं कि उसने 5 दिसम्बर 2018 के बाद किसी नये शेयर में निवेश नहीं किया तथा दो शेयरों एसकेएफ व अमर राजा बैटरी में 20 प्रतिशत की जगह 100-100 रूपये ही मुनाफा बुक कर लिया।
हालांकि उसने 4000 का प्रोफिट बुक किया पर उसने रूल क्यों तोड़ा क्यों उसने नये शेयर लेने बंद कर दिये क्यों उसने 20 प्रतिशत से कम लाभ बुक किया?
इसका जबाब उसको मिले जीरोधा के इस प्रमाण पत्र में छिपा हैः-
असल में उसको भी उपर के वीडियोज में बतायी गयी स्विंग ट्रेड वाली मैथ्ड बहुत अच्छी लगी इसमें रिस्क कम व छोटा सा 10 शेयर का पोर्टफोलियो रखकर लगातार कमाई कर सकते हैं।
अब सीमा की विधि को समझने के लिये आपको इस श्रखंला का एक वीडियो और देखना पड़ेगा जो निम्न है-

अब उक्त वीडियो में आये कमेंट में बहुत से दर्शकों ने मांगा था कि सीमा के स्विगं ट्रेड वाला पोर्टफोलियो शेयर करें उससे हमारा उत्साह बढ़ेगा व बहुत मार्गदर्शन होगा।
उसने सप्ताह के 5 दिनों के लिये निफ्टी  50 के निम्न Stocks फिक्स कर रखें हैः-
XXवार को Yes Bank
XXवार को IOC
XXवार का NTPC
XXवार को ONGC
XXवार को Tata Moters DVR
 वार को  XX लिख रहा हुं ताकि सब लोग एक ही वार को एक ही शेयर में स्विंग ट्रेड नहीं करने लगे क्योंकि इससे तो सिस्टम गड़बड़ हो जायेगा जैसे मेरी टिपों को फेल करने में आधा योगदान मेरे फोलोवर का भी है जब भी मैं कोई टिप डालता हुं वो एक साथ हड़बड़ी में उचें भाव पर ढेर सारे शेयर ले लेते हैं जिससे प्राईस एक बार तो तेजी से बढ़ता है पर बाद में वो ही वापस बेचने लगते हैं जिससे प्राईस और भी गिर जाता है।
अब वो प्रत्येक वार को पिछले दिन की VWAP पर इन शेयरों में 2000 का निवेश करती है जैसे वार को यस बैंक में 2000 का निवेश किया तो अगली बार वापस वो वार आने तक या तो 4 प्रतिशत प्रोफिट मिल जाये नही तो अगली बार उसी वार को वापस पिछले दिन VWAP की पर 2000 का और निवेश करके अपनी पोजिशन ऐवरेज आउट कर लेती है अब उसका टारगेट घटकर 3 प्रतिशत रह जाता है असल में टारगेट इसमें इस प्रकार तय करना होता हैः-

वो निफटी मिडकेप 50 के 4 शेयरों में भी वार वाईज 1000 का निवेश करती है इसका अर्थ यह है कि 8 बार 1000-1000 का ऐवरेज आउट करने पर भी लाभ नहीं मिलेगा तो टारगेट 1 प्रतिशत ही रह जायेगा आखिर इसमें भी तो मूलधन वापस ब्रोकरेज निकाल कर कुछ तो मिलेगा ही आपको उपर के वीडियो में ये मैने समझाया है आप तीनो वीडियो पुरे जरूर देखें ।
आपने सोचा होगा वार 5 है शेयर 4 क्यों असल में वो एक बार फिर मेरी रेकमाडेंशन के चक्कर में आ गयी उसने 5 वां शेयर पुदुमजी पेपर इस विधि से लिया है अभी 1000.1000 करके 6000 का निवेश हुआ है व टारगेट घटकर 2 प्रतिशत ही रह गया है इसमें जब भी वो लाभ लेकर निकल जायेगी  पुदुमजी पेपर में मैने भी 10000 का निवेश किया है पर सीमा इसमें स्विगं ट्रेड से निवेश कर रही है वो मेरे एक मुश्त निवेश से ज्यादा सुरक्षित है मुझे तो मेरे 22.50 के निवेश पर मुनाफे में निकलने में इंतजार करना पड़ेाग पर स्विंग ट्रेड में तय है कि आखिर 1 प्रतिशत प्रोफिट से निकलने को तो मिल ही जायेगा ।
उसका ये भी मानना है एक बार पुदुमजी पेपर से निकलने के बाद 5 वां शेयर भी निफटी मिडकैप से ही ले लेगी क्यों कि इनमें ज्यादा जल्दी जल्दी रिर्टन उसको मिल रहा है क्यों कि इन्डेक्स के शेयर एफएण्ड ओ में भी होते हैं ज्यादातर मार्केट इनमें ट्रेड करता है तो इनमें उतार चढाव भी जल्दी होते हैं कल ही उसने यस बैंक में 4 प्रतिशत के टारगेट की जगह 12 प्रतिशत का प्रोफिट बुक किया है 
Nifty Midcap Ke 4 Share and 5th Share:-
XXवार को GMR Infra
XXवार को Dish TV
XXवार का Rel Power
XXवार को IDFC First Bank
XXवार को Pudumajee Paper
अब उसकी वर्तमान होल्डिंग पर निगाह डाल लिजिये:-

 मिलेगें अगले भाग में आपके कमेंट का मुझे ईतंजार रहेगा
Mahesh Kaushik

Swing Trade Method, New Swing Trade, Hindi Swing Trade, Intraday Vs Swing Trade

Matched Content