रविवार, 16 जुलाई 2017

सीमा कौशिक के शेयर पोर्टफोलियो निमार्ण का तीसरा सप्ताह

यदि आप पहली बार इस ब्लोग पर आये हैं और आपने इस आलेख के पिछले भाग को नहीं पढा है तो कृपया निम्न लिंक पर जाकर इस आलेख के प्रथम भाग से पढना आरंभ करें।
प्रथम भाग का लिंकः-
 अब दिनांक 12 जुलाई 2017 को बुधवार के दिन सीमा कौशिक ने रेंक 3 से शेयरों की 200 डीएमए चैक करना प्रारंभ की परन्तु ज्यादातर शेयर पहले ही इतने बढ चुके थे कि वो अपनी 200 डीएमए के 15 प्रतिशत से उपर कारोबार कर रहे थे जैसा कि पुस्तक में और इस आलेख के पहले भाग में बताया जा चुका है कि जो शेयर उसकी 200 डीएमए के 15 प्रतिशत से उपर कारोबार कर रहा हो तो हम मानेंगें कि उसका भाव अभी इतना ज्यादा है कि हमें उसको अभी नहीं खरीदना चाहिये। 
तथा जो शेयर 200 डीएमए से नीचे हो या 200 डीएमए के आसपास हो तो हम इसलिये नहीं खरीदेगें कि शेयर का प्राईस अभी और भी नीचे आ सकता है अतः हम केवल वही शेयर खरीदेगें जो उसकी 200 डीएमए के 5 प्रतिशत उपर से 15 प्रतिशत उपर के बीच में ट्रेड कर रहा हो इस मैथ्ड की ज्यादा जानकारी के लिये आपको मेरी पुस्तक How Chandu Earned And Chinki Lost In The Stock Market पढने की सलाह दी जाती है जो अमेजन फलीपकार्ट पेटीएम आदि पर उपलब्ध है।
चूंकि सीमा रेंक 1 व रेंक 2 के शेयर पिछले दो हफतों में खरीद चुकी है तो 12 जुलाई को रेंक 3 से रेंक 13 के शेयर करने पर निम्न सारणी के अनुसार देखिये कि केवल स्टील आॅथोरटी आफ ईण्डिया लिमिटेड का शेयर ऐसा था जो 200 डीएमए के 10.98 प्रतिशत उपर ट्रेड कर रहा था बाकी शेयर या तो 200 डीएमए के 15 प्रतिशत से ज्यादा उपर ट्रेड कर रहे थे या 200 डीएमए से नीचे और उसके आस पास ट्रेड कर रहे थे:-

 पुस्तक में बताये नियम के अनुसार हर हफ्ते रेंक वार चैक करने पर केवल एक शेयर खरीदना है जो 200 डीएमए के 5 प्रतिशत से 15 प्रतिशत के बीच में ट्रेड कर रहा हो तो सीमा कौशिक ने इस हफ्ते स्टील ओथोरटी के 103 शेयर 62 रूपये के भाव पर खरीदे ये पूफ्र देखिये ताकि आपको पता चले ये सिर्फ कहानी नहीं है सत्य घटना पर आधारित शिक्षा है कि शेयर मार्केट में कैसे निवेश करना चाहियेः-

दिनांक 12.07.2017 को मार्केट बंद होने के बाद सीमा की बैलेंस शीट देखियेः-

अब अगले सप्ताह फिर मिलेगें।अगले सप्ताह सीमा रेंक 3 से रेंक 12 के शेयरों की 200 डीएमए से स्थिति फिर से चैक करेगी यदि इनमें से कोई शेयर 200 डीएमए के 5 से 15 प्रतिशत उपर हुआ तो उसको लेगी नही तो रेंक 14 के शेयर से आगे बढेगी। 
मुझे आप लोगों से एक शिकायत भी है कि इस आलेख के पिछले भागों पर इतने कम कमेंट आ रहें हैं कि मुझे पता भी नहीं चल रहा है कि मेरे पाठक इस सीरीज को जारी रखना चाहते हैं या नहीं।
आपके कमेंट मेरी एकमात्र फीस है वो मुझे नयी उर्जा देते हैं अतः आपको मेरा जबाब मिले या नहीं मिले क्यों कि मैं अकेला इतने जबाब नहीं दे पाता पर पढता सब हुं आप अपने कमेंट करना जारी रखें इसमें कजूंसी मेरी उर्जा कम कर रही है।
सादर।
महेश कौशिक

एक टिप्पणी भेजें

Matched Content