बुधवार, 25 जनवरी 2017

कभी भी शेयरों की टीप खरीद कर निवेश नहीं करें।

नमस्कार दोस्तो,
लम्बे समय के बाद मैं आज अपने हिन्दी ब्लोग को अपडेट कर रहा हुं दरअसल आज का विषय है कि कभी भी शेयरों की टीप देने वाली कोई भी पेड सर्विस को सब्सकराईब नहीं करें।
आप पुछेगें क्यों?
मेरे पास ऐसे प्रतिदिन ई मेल आते हैं कि प्रिय मि0कोैशिक क्या आपकी कोई पेड सर्विस है क्यों कि मैं आपसे पैसे देकर शेयर टीप खरीदना चाहता हुं।
मुझे आश्चर्य होता है कि जब मेरी एप पर ओर मेरे ब्लोगों पर मुफत में रिसर्च रिपोर्ट व शेयर टीप डाली जाती है तो लोग क्यों मेरी ऐसी सर्विस चाहते हैं जिसमें मैं उनसे कुछ पैसा वसूल करके अपनी शेयर मार्केट की सलाह उनको दूं? दरअसल वो सोचते हैं कि मैं पैसे लेकर सलाह बेचूंगा तो शायद ओर भी अच्छी होगी जिससे वो रातों रात करोड़पति बन जायेगें।
चलिये इसी पर कुछ याद आया मैं मूल रूप से में तहसील में टीआरए के पद पर काम करता हुं तथा मेरे पास हमारे जिला कलेक्टर कार्यालय के सहायक राजस्व लेखाअधिकारी का चार्ज भी है। ऐसी स्थिति में मेरे पास जब कोई किसान अपना काम लेकर आता है तथा मैं उसकी समस्या सुनकर उसका समाधान कर देता हुं तो उसको विश्वास ही नहीं होता कि उसका काम हो गया है वो बार बार एक ही रट लगाता है बाबुजी चाय पानी ले लिजिये? 
मैं उसे समझता हुं कि भाई राज्य सरकार ने हमें इसी काम के लिये रखा है। मैं चाय पीता नहीं, पानी मैं अपने घर से आरओ का लेकर आता हुं तथा आपका काम मैने कर दिया है परन्तु उसको विश्वास नहीं होता कि बगैर चाय और पानी के उसका काम कैसे हो सकता है।वो फिर आग्रह करता है बाबुजी क्यों परेशान कर रहें हैं चाय पानी लेकर काम क्यों नहीं कर देते इस पर बड़ी मुश्किल से उसे विश्वास दिलाना पड़ता है कि उसका काम बगैर चाय में पानी मिलाये भी उसी गति से हो रहा है जिस गति से चाय में पानी डालने पर हो सकता था।
इसी प्रकार मेरे शेयर बाजार के फोलोवरों को भी विश्वास नहीं होता कि मैं अपनी टीप बेचता क्यों नहीं? वो सोचते हैं शायद पेड सविर्स ज्यादा जोरदार हो सकती है।
दरअसल मेरा मानना है कि यदि आपके पास सचमुच ऐसा शेयर ढुढंने की क्षमता है जो भविष्य में परफोरम कर सके तो आपको उसका नाम बेचकर पैसे कमाने की आवश्यकता ही क्या है आप स्वंय उसमें निवेश करके पैसे कयों नहीं बना लेते? जैसा मैं करता हुं मैं व मेरी पत्नी अपने सभी शेयर टीप में स्वंय भी निवेश करते हैं तथा सेबी के रेगुलेशन का भी पूरी ईमानदारी से पालन करते हैं कि रिसर्च रिपोर्र्ट डालने के 30 दिन पहले व 5 दिन बाद तक हम अपनी किसी भी टीप में निवेश नहीं करते व ट्रेड नहीं करते इसकी बाकायदा सी.ए से सालाना ओडीट भी होती है।
मैं तो चाहता हुं कि आप स्वंय शेयर तलाश करना सीख लेवें उसके बाद आपको मेरे ब्लोग पढने की भी आवश्यकता नहीं है इसके लिये मैने दो पुस्तकें भी लिखि है एक तो हिन्दी में भी है दुसरी अभी लोन्च की है जो अग्रेंजी में है उसके लिये भी हिन्दी वाले पाठक हिन्दी की मांग कर रहें हैं जबकि मैं खुद हिन्दी माध्यम का विधार्थि रहा हुं तथा मेरी अग्रेंजी इतनी जटिल नहीं है कि हिन्दी वाले नहीं समझ सकें।
दरअसल नयी पुस्तक में मैने शेयरों में सुरक्षित तरीके से निवेश करने के एक सिद्धांत को रोचक कहानी के रूप में समझाया गया है इस सिद्धांत को तैयार करने में मुझे 10 वर्ष की मेहनत लगी है इसलिये जिन्होने पुस्तक नहीं ली है उनसे मेरा निवेदन है कि निम्न लिंक पर जाकर आज ही ले लेवेंः-
चलिये मूल विषय पर वापस आ जाते हैं कि कभी भी शेयरों की टीप प्रदान करने वाली सेवा सब्सकराईब नहीं करें। क्यों कि आप यदि मेरे सिद्धांत  को समझ लेते हैं तो आपको उसकी जरूरत नहीं हैं
 आप मेरी पुस्तकें खरीदें ऐसा भी मैं आग्रह नहीं करता आप चाहे तो मेरे यूटयूब विडीयो देखकर फ्री में ज्ञान बटोर सकते हैं फिर ज्यादा गहराई में जाना चाहें तो ही पुस्तकें खरीदें।
पेड टीप सेवा को सब्सक्राईब क्यों नहीं करें आज उसके लिये आपको श्री घीसू भाई की कहानी बतायी जा रही है घीसू भाई का वर्णन मेरी उक्त पुस्तक के अघ्याय 17 में पढा है पर ये कहानी उस कहानी से अलग है ।
घीसू भाई को शेयरों में लोन्ग टर्म निवेश करना पसंद नहीं है वो तो कभी कभी फंस जाते हैं तो मजबूरी में लोन्ग टर्म निवेशक बन जाते हैं क्यों कि उनको घाटा खाकर बेचना भी पसंद नहीं है जैसा कि आपने उक्त चंदू चिंकी की पुस्तक में पढा है कि घीसू भाई ने जो सुजलोन के शेयर 8-9 साल पहले खरीदे थे वो आज भी उनके पोर्टफोलियो की शोभा बढा रहे हैं ।
घीसू भाई एक दिन नेट पर सर्फ कर रहे थे कि एक विज्ञापन दिखा कि हमारी शेयरों की टीप से घर बैठे कमायें 50 हजार महिना 5 दिन के फ्री ट्रायल के लिये आज ही आवेदन करें।
घीसू भाई ने आवेदन कर दिया अब अगले दिन उनके पास एक ईमेल आया कि आज आप एसबीआई के शेयर को खरीदें तथा दिन के अंत में उचित मुनाफा लेकर बेच देवें आज एसबीआई हर हालत में बढने ही वाला है।
घीसू भाई बहुत होशियार थे उन्होने सोचा आज तो चैक करते हैं सही जायेगी तो कल पैसा लगायेगें।
घीसू भाई आश्चर्यचकित हो उठे कि एसबीआई वास्तव में 5 प्रतिशत उपर बंद हुया घीसू भाई ने सोचा आज तो मौका चुक गये भई यदि 10 हजार मार्जिन मनी लगाकर 50000 के एसबीआई इन्टराडे में लिये होते तो आज ही 2500 कमा लेते।
अगले दिन ई मेल आया आज एचयूएल का शेयर गिरने वाला है। घीसू भाई ने आज डरते डरते 25000 के शेयर बेच के शार्ट खेला तथा दिन के अंत तक 2000 कमा कर निकल गये।
इसी प्रकार तीसरे तीन भी सही टीप आयी पर आज घीसू भाई ने पैसे नहीं लगाये क्यों कि उन्होने सोचा लगातार तीन टीप थोड़े ही सही होती है आज तो फेल होगी परन्तु घीसू भाई की सोच गलत थी आज भी सही टीप आयी थी।
चोथे दिन घीसू भाई को रिलायंस खरीदने की सलाह आयी व उसमें भी उन्होने 3000 कमाये। 
पांचवे दिन टीप आयी कि आज अरविंद लिमिटेड टुटेगा, घीसू भाई ने आज सीघा फयूचर में शोर्ट ठोक दिया एक बार तो अरविंद उपर बढा व घीसू भाई 20000 के नुकसान में आ गये परन्तु दिन के अंत तक  कमाल हो गया पांचवे दिन की टीप भी सही निकली पांचवें दिन तो घीसू भाई ने एक दिन में ही 10000 कमा दिये।
घीसू भाई की अब रात को नींद नहीं आयी उन्होने देखा अब तो करोड़पति बन गये भाई अब तो अपने चामुण्डा आईसक्रीम पार्लर ही खरीद लेगें( उक्त पुस्तक में आपने पढा है कि घीसू भाई वहां वेटर थे).
अगले दिन कपंनी का ई मेल आया कि आप की फ्री ट्रायल खत्म हो गयी है आप अब चाहें तो हमारी फीस एक माह के 40000 या छह माह के 100000 देकर हमारी सेवाओं को जारी रख सकते हैं।
घीसू भाई ने तुंरत छह माह के एक लाख ओनलाईन जमा करवा दिये अगले दिन घीसू भाई के  पास एक के स्थान पर चार शेयरों की टीप आयी जिसमें बहुत छोटा टारगेट व स्टोप लोस दिये हुये थे जिसमें से एक सही व तीन गलत निकली व जोश में आकर ज्यादा रकम लगाने के कारण घीसू भाई को एक ही दिन में 50000 का नुकसान हो गया क्यों कि घीसू भाई को स्टोप लोस लगाना गवारा नहीं हो रहा था।
बाद में भी जो भी टीप आती कुछ सही तो कुछ गलत जाती घीसू भाई जितना कमाते उससे ज्यादा गवांतें क्यों कि वो प्रोफीट तो छोटा बुक करते व नुकसान बुक करते हुये झिझकते इसलिये नुकसान बढता ही जाता कंपनी में फोन करते तो जबाब मिलता आपने स्टोप लोस क्यों नहीं रखा? । 
आप सोच रहे होगें मैं क्यों आपको बोर कर रहा हुं दरअसल शुरू के 5 दिनों की टीप सही क्यों जाती थी इसका उतर सुन लिजिये कंपनी फ्री ट्रायल का विज्ञापन करती है मान लिजिये 4000 लोग इस विज्ञापन को देखकर फ्री ट्रायल ले लेते हैं।
अब कंपनी ने इनको 2000-2000 के दो समूहों में बांटा पहले समूह को कहा आज एसबीआई बढने वाला है आप ले लिजिये व मनमाफिक मुनाफा कमाईये दूसरे को कहा आज एसबीआई गिरने वाला है आप बेच दिजिये अब दोनों में से एक तो होना ही था इसलिये जब एसबीआई बढ गया तब कंपनी समझ गयी कि ये 2000 लोग संभावित ग्राहक हैं इसलिये इनको फिर से 1000-1000 के समूह में बांट कर एक ही शेयर की बढने व गिरने की अलग अलग टीप भेजी अब घीसू भाई उन सोभाग्यशाली 1000 लोगों के समूह में थे जिनको दोनो टीप सही मिली।
तीसरे दिन इनको फिर 500-500 के समूह में बांट कर एक को बढने की दूसरे को घटने की टीप दे दी।
चोथे दिन जिन 500 लोगों की  तीनों टीप सही जा रही थी उनको 250-250 के समूह में बांट कर उनको भी इसी प्रकार टीप भिजवा दी।
पांचवें दिन जिस 250 के समूह की  चारों टीपें सही थी उनको 125-125 के समूह में बांट कर आधों को अरविदं बढने की आधों को गिरने की टीप भेज थी सौभाग्य से घीसू भाई इन 125 सब्सकराबर में थे जिनको पांचों दिन सही टीप मिली थी ओर कंपनी जानती थी कि इन 125 में से 100 व्यक्ति एक लाख की फीस भरते हैं तो कंपनी ने तो एक करोड़ बना लिये बाद में टीप आती उसमें छोटा टारगेट व छोटा सा स्टोप लोस होता।
यहां मेरा उददेश्य किसी भी पेड सेवा या रिसर्च एनालिस्ट की बुराई करना नहीं है ज्यादातर पेड सेवा देने वाले भी अपने क्षेत्र के एक्सपर्ट लोग हैं उनमें से कुछ तो मेरे ब्लोग भी पढते हैं तथा उनसे मेरी अच्छी मित्रता है यहां आपकेा केवल ऐसी फ्राॅड कंपनियों से सावधान करना है जिन्होने घीसू भाई से चिटींग की थी।
इसलये मैं यही चाहता हुं कि आप स्वंय शेयरों को तलाश करना सीखें दूसरों पर यहां तक की मुझ पर भी आश्रित नहीं रहें।
आप ज्यादा जानकारी के लिये मेरे ये दो विडीयो भी देख सकते हैं।
Intraday Trading Sharegenius Formula;-
And How I select Stocks:-

तथा  आप अग्रेंजी  से डरिये मत आप धीरे धीरे पढेंगें तो समझ ओर सीख जायेगें जैसे मेनें सीखी है अग्रेंजी  से नफरत करना बंद करके अग्रेंजी सीखिये क्यों कि यह वर्तमान युग की अतंराष्ट्रीय भाषा है।

 आप चाहें तो निम्न चिंकी के लिंक के अतं पर बतायी गयी चार पुस्तकें मेरे कोर्स मैटेरियल के रूप में खरीद सकतें हैं-
लिंकः-
अब आपकी बारी है आप अपने उदगार कमेंट में व्यक्त करें क्यों कि आपके उदगार पढने से मुझे खुशाी होती है तथा आपने ये लेख पुरा पढा है तो  आप भी कम नहीं है आपके विचारों से भी काफी सीखने को मिलेगा तथा इससे मुझे मेरे आगामी कार्य के लिये उर्जा  भी मिलेगी।
मेरे रिसेन्ट अपडेट-
and 
एक टिप्पणी भेजें

Matched Content